पाकिस्‍तान की मिट्टी हुई पलीत, नवाज दोषी करार, जायेगा पीएम का पद | weebsly

बहुप्रतिक्षित पनामा पेपर लीक मामले में आज पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को दोषी करार दिया है। पनामा मामले में शरीफ पर लंदन में संपत्ति बनाने और अवैध तरीके से धन जमा करने का आरोप है। नवाज शरीफ के दामाद और बेटी को भी इस मामले में दोषी करार दिया गया है। इस फैसले से नवाज की मुश्किलें बढ़ गईं हैं और उन्हें अब पीएम को पद छोड़ना पड़ेगा। शरीफ पर ये बड़ा फैसला सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच ने लिया है।

pak-supreme-court-28-07-17-1-1

जस्टिस आसिफ सईद खोसा की अगुआई वाली पांच जजों की बेंच ने पनामा पेपर लीक मामले में पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ को सुप्रीम कोर्ट ने दोषी करार देते हुए फैसला सुनाया कि लो अब पाकिस्तान के पीएम पद के लिए योग्य नहीं हैं। बेंच ने शरीफ के खिलाफ मामला दर्ज करने और पीएम पद छोड़ने का आदेश दिया है। आपको बता दें कि कोर्ट ने तीन बार पाकिस्तान के पीएम शरीफ को पीएम पद के लिए अयोग्य घोषित करने का आदेश दिया है।

 

पीएम पद से इस्‍तीफा देने का आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने दो हफ्तों के अंदर नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ केस दायर एनएबी को आदेश दिया है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने नवाज शरीफ को तुरंत पीएम पद से इस्तीफा देने का आदेश भी दिया है। गौरतलब है कि शरीफ के परिवार के विदेश में संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की जांच के लिए पाकिस्तान में संयुक्त जांच दल का गठन किया गया था। इस जांच दल ने ने 10 जुलाई को अपनी रिपोर्ट कोर्ट के सामने रखी थी।

 

यह था मामला  ( पनामा पेपर )

दरअसल, पिछले साल ब्रिटेन से लीक कुछ टैक्स डॉक्युमेंट्स लीक हुए थे जिसमें दुनियाभर के 140 नेताओं और सेलिब्रिटीज द्वारा टैक्स हैवन कंट्रीज में पैसा निवेश करने का खुलासा हुआ। इनमें नवाज शरीफ का भी नाम शामिल है। इन नेताओं और सेलिब्रिटीज ने फर्जी कंपनियों, ट्रस्टों और कॉरपोरेशन के जरिए टैक्स बचाया। लीक हुए डॉक्युमेंट्स में खासतौर पर पनामा, ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड और बहामास में हुए फर्जी निवेश के बारे में बताया गया है।

weebsly