जी हाँ शायद आपको जानकर हैरानी हो पर यही सच है की यहाँ पर महिलायें पेड़ पर बैठ कर कटी हैं कुछ अलग, जिसे जानकर आप भी हो जायेंगे सोचने पर मजबूर.

ये भी पढ़ें :-इस ख़ास दिन कर डालें ये अचूक उपाय, नौकरी और धन की समस्या होगी दूर

पेड़ों को बचाने के लिए न केवल भारत में बल्कि अन्य देशों में भी लगातार जागरूक अभियान किये जा रहें हैं. ऐसा ही पेड़ों की कटाई के विरोध में एक हैरान करने वाला प्रदर्शन पोलेंड में किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें :-देखकर यकीन नहीं होगा आपको, यहां कपड़े उतारकर लेते हैं…का मजा

ये भी पढ़ें :-यहां पुरुषों से जबरन महिलाएं बनाती हैं संबंध, खुद रहती हैं बिना कपड़ों के

यहां की महिलाएं इसका हिस्सा बन रहीं हैं. इसको रोकने के लिए वे उस पर बैठकर अपने बच्चों को स्तनपान करा रहीं हैं. हाल ही में यहां एक पर्यावरण कानून बनाया गया है. जिसे मानवाधिकार समूह विनाशकारी बता रहे हैं.

ये भी पढ़ें :-नंगे होकर सोने से होता है ये आश्चर्यजनक लाभ, जानकर चौंक जायेंगे आप

नए पर्यावरण कानून के अनुसार, निजी जमीन मालिकों को अब पेड़ काटने, बदले में नए पेड़ लगाने, और मुआवजा देने के लिए अनुमति नहीं लेना होगी.

ये भी पढ़ें :-सेना ने नदी पर किया पल भर में ऐसा हैरतंगेज काम, देखकर दंग रह जायेंगे आप देखें वीडियो   

इस कानून से देश में पेड़ों की कटाई आसान हो गई है. अब निजी जमीन पर कितने ही पेड़ों की कटाई की जा सकती है. इतना ही नहीं, उन्हें अब पेड़ों को काटने या फिर कटाई की सूचना देने की भी जरूरत नहीं है.

ये भी पढ़ें :-जानिए दुनिया के इन अजीबोगरीब गांव के बारे में जहां महिलाएं…

क्रैको शहर में महिलाओं ने “पॉलिश मदर्स ऑन ट्री स्टंप्स” नामक एक समूह बनाया है. सदस्य महिलाएं जागरूकता फैलाने के लिए कटे हुए पेड़ों पर बैठकर स्तनपान करवाने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा कर रही हैं.

ये भी पढ़ें :-इस खूबसूरत लड़की ने पानी में किया कुछ ऐसा जिसने भी देखा हो गया हैरान

इसके अनुसार, पेड़ चाहे 200 साल पुराना ही क्यों न हो, उसे भी काटा जा सकता है. ये हैं कमियां नए कानून में जमीन मालिक व्यावसायिक उद्देश्य के लिए पेड़ों की कटाई नहीं कर सकते.

ये भी पढ़ें :-तो कर डालें ये पावरफुल अचूक उपाय और पायें जबरदस्त कामशक्ति

हालांकि कानून के जानकारों के अनुसार, कोई भी कंपनी पहले जमीन को किसी व्यक्ति के हाथों बेच देगी. फिर जमीन मालिक आसानी से पेड़ों की कटाई कर सकता है और कंपनी उसे दोबारा खरीद लेगी. ऐसी संदेहास्पद प्रक्रिया को रोकने के लिए कोई प्रावधान नहीं है.

ये भी पढ़ें :-इस क्षेत्र की महिलायें करती हैं माहवारी के समय ये अजीब काम, जानकर हो जायेंगे हैरान

weebsly