नागमणि : एक ऐसा रहस्‍य जो आपने आज तक नहीं सुना होगा

नागमणि को भगवान शेषनाग धारण करते हैं। भारतीय पौराणिक और लोककथाओं में नागमणि के किस्से आम लोगों के बीच काफी प्रचलित हैं। नागमणि सिर्फ नागों के पास ही होती है। नाग इसे अपने पास इसलिए रखते हैं ताकि उसकी रोशनी में आसपास घूम सकें और अपना भोजन कर सकें।

यह भी पढें:-खूनी नदी का खौफनाक सच, जानकर होश उड़ जायेंगे आपके

हालांकि इसके अलावा भी नागों द्वारा मणि को रखने के और भी बहुत सारे कारण हैं। नागमणि का रहस्य आज भी अनसुलझा है। आम जनता के बीच में यह बात प्रचलित है कि कई लोगों ने ऐसे नागों को देखा है जिनके सर पर मणि थी। हालाकि पुराणों में मणि धरण के कई सारे किस्‍से हैं। जैसे कि भगवान कृष्ण का की इसी तरह के एक नाग से सामना हुआ था। अगर ज्योतिष शास्त्र की माने तो वृहद संहिता में जो उल्लेख मिलता है उसके अनुसार संसार में मणि धारी नाग मौजूद हैं। और नागमणि से संबंधित YouTube पर कुछ वीडियो भी अपलोड है। जिस में दिखाया गया है कि नाग किस तरह से मणियों को धारण करता है। या किस तरह से उसे निकालता है।

यह भी पढें:- जानिए भारत की इन जगहों पर बिना कपडों के घूमते हैं लोग

लेकिन टेक्नोलॉजी की आज की दुनिया में किसी भी बात पर यकीन कर पाना थोड़ा सा मुश्किल होता है। क्‍योंकि ऐसी बहुत सारी चीजें हैं जिन को एडिट कर-कर लोगों के सामने पेश किया जाता है। अब इन पर यकीन कर पाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन इसमें सच्चाई भी हो सकती है क्योंकि ऐसे नागों का मिलना बहुत मुश्किल होता है। इसीलिए कहा जाता है कि मणिधारी नाग नहीं होते हैं।

यह भी पढें:- इन दो खूबसूरत हसींनाओं ने किया कुछ ऐसा कि जिसने भी देखा…

सच जो भी है लेकिन वृहद संहिता में नाग मणि के बारे में कई रोचक बातें बताई गई हैं। जो इस बात की ओर इशारा करती हैं कि वास्तव में नागमणि होती है। नागमणि केवल विशेष प्रकार के नाग धारण करते हैं। किस्से और कहानियों के हिसाब से माना जाए तो नागमणि में इतनी चमक होती है कि जहां पर भी यह होती है वह आस-पास तेज रोशनी फैल जाती है। जैसे किसी ने बिजली का बल्ब जला दिया हो, वह मोर के पख के समान उसमें रंगीन रंग होते हैं।

यह भी पढें:- जानिये इस अनोखे देश का हाल, जहां महिलायें पेड़ पर ही करती हैं वो काम …

अग्नि की तरह चमकीली होती है। माना जाता है कि नागमणि अन्‍य कई मुद्दों से ज्यादा प्रभावशाली होती है। और साथ ही साथ जिसके पास भी यह मणि होती है उन पर किसी भी विष का प्रभाव नहीं होता। और जो लोग रोग से ग्रसित होता है उसे किसी भी प्रकार की बीमारी नहीं होती है। और वह शत्रु पर आसानी से विजय भी प्राप्त कर लेता है।

इन बातों को मानना कितना सही होगा अगर आप धार्मिक किस्म के व्यक्ति हैं। महाभारत रामायण पुराणों पर यकीन करते हैं तो नागमणि के बारे में भी यकीन करना गलत नहीं होगा क्योंकि महाभारत रामायण और पुराणों में चमत्कारी मणियों का भी जिक्र मिलता है। हमारी पौराणिक कथाओं में सबके सिर पर मणि होने का उल्लेख कई जगह है।

यह भी पढें:- कामकला का सबसे बड़ा राज छिपा है नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर में

नागमणि के बारे में कहा जाता है कि यह जिसके भी पास होती है उसकी किस्मत बदल जाती हैं। कहते हैं कि नागमणि में अलौकिक शक्तियां होती हैं। अलौकिक शक्तियों से मेरा मतलब है सुपर पावर का और दिखने में तो उस की चमक के आगे हीरा भी फीका पड़ता है। मान्यता के अनुसार नागमणि जिसके भी पास होती है उस आदमी को दौलत की कभी भी कमी नहीं होती। लेकिन नागमणि का इस पृथ्वी पर होना असल जिंदगी में उसी तरह से है। जिस तरह से अलादीन का चिराग, इसमें कितनी सच्चाई है कोई भी नहीं जानता इन सबके बावजूद कुछ सवाल अपनी जगह वही के वही खड़े हैं। जैसे की इच्छाधारी सांप होते हैं। इच्छाधारी सांप हमने केवल फिल्मों में ही देखे हैं, या कुछ पुरानी किताबों में पढे हैं। माना जाता है कि इच्छाधारी सांप कोई सा भी रूप धारण कर सकता है। लेकिन इसका कोई भी पुख्ता सबूत हमारे विज्ञान के पास अभी तक नहीं है।

weebsly